Moong dal halwa recipe in hindi!मूंग दाल हलवा रेसिपि


मूंग दाल हलवा एक ऐसी आकर्षक रेसिपी है जो अपनी मनमोहन खुशबू से ही लोगों के मुंह में पानी लगने के लिए फैक्ट्री है यह कैसा अनोखा हवा है जो अन्य प्रकार के हेलो की तरह नहीं बनाया जाता है l

बिल्कुल इसे बिल्कुल अलग तरीके से कोर्स पेस्ट के रूप में बनाकर बाद में मोती और सूती गांठ सुखी गांठ बनने के लिए बर्तन में फ्री करना पड़ता है लाजवाब नहीं होता है बल्कि यह हमारे शारीरिक स्वास्थ्य के लिए भी काफी फायदेमंद होता है l

मगर ज्यादातर लोग Moong dal halwa recipe in hindi , बनाने का तरीका नहीं जानते हैं आज हम आपको बिल्कुल अलग स्टाइल से तथा बहुत ही टेस्टी मूंग दाल हलवा बनाने का तरीका बताएंगे इस हलवे को एक बार खाकर बार-बार खाने का मन करता है। Read more

Moong dal halwa recipe in hindi!मूंग दाल हलवा रेसिपि

मूंग दाल का हलवा बच्चे बूढ़े सबको परोस सकते हैं । यानी यह नुकसान नहीं करता है।
बल्कि यह बहुत ही फायदेमंद हलवा होता है।

Gajar ka halwa

मूंग दाल हलवा को बच्चे बहुत ही शौक से खाना पसंद करते हैं । या फायदेमंद इसलिए होता है कि इसमें भी दूध ड्राई फ्रूट्स डाला जाता है। जिसमें की घी की मात्रा ज्यादा होती है। दाल को भुनते समय भी घी डालना जरूरी होता है। तथा इसे तड़का देने और इसका सिरा तैयार करने में भी घी डाला जाता है। तो चलिए बनाना शुरू करते हैं ,Moong dal halwa recipe in hindi!

सामग्री ,
मूंग की दाल 250 ग्राम,
घी 150 ग्राम
दूध 200 ग्राम
चीनी 200 ग्राम
ड्राई फ्रूट्स 50 ग्राम
केसर के धागे एक चुटकी
इलाईची पॉउडर 1/2 चम्मच
खोया 1 कप

विधि,

  1. मूंग दाल का हलवा बनाने से पहले यह ध्यान रहेगी मूंग की दाल को 3 से 4 घंटे तक अच्छे से भिगोकर रख दें।
    जब दाल अच्छे से फूल जाए तो उसका पानी अच्छे से छान कर मिक्सर में बारीक पीस लें।
    2 . अब एक कढ़ाई में लगभग 100 ग्राम घी डालकर गर्म करके उसमें तमाम ड्राई फ्रूट्स को हल्का सा रोस्ट कर लें
    ड्राई फ्रूट जब रोस्ट हो जाय तो उसे या तो बारीक काट ले या फिर दो दो टुकड़ों में तोड़ लें
  2. अब इसी बचे हुए घी में मूंग दाल का पिसा हुआ पेस्ट डालकर धीमी आंच तक इतनी देर तक भुने की यह दाल भुरभुरा होकर बादामी बादामी रंग में बदल जाए।
  3. जब दाल भूनकर पूरी तरह से बादामी रंग का भुर भूरा हो जाए तो उसमें एक कप खोया डालकर दोनों को अच्छे से मिक्स करके लगभग 2 मिनट तक पकने के बाद गैस की आंच बंद कर दें।

चाशनी


.मूंग की दाल का हलवा बनाने के लिए अब चाशनी की तैयारी करनी होगी चाशनी बनाने के लिए एक पेन में दो कप पानी डालकर उसमें केसर के धागे और चीनी डालकर 15 से 20 मिनट तक मीडियम आंच पर कच्चे तार की चाशनी आने तक उबलते रहे।
.जब कच्चे तार की तैयार हो तो मूंग दाल का भुना हुआ मिश्रण चाशनी में डालकर आंच को धीमी करके 3 से 4 मिनट तक चमचे से अच्छे से चलते रहें।

. जब हलवा कड़ाई का तला छोड़ने लगे तो गैस की आंच को बंद कर दें ।


सर्व करने का तरीका


मूंग दाल हलवा को सर्व ऐसे किया जाय जिससे कि हलवा की खूबसूरती और बढ़ जय जाय और देखने वाले न चाहते हुए भी मूंग क्या दोनों में ही अंतर दाल हलवा खाने पर मजबूर हो जाएं।


मूंग दाल हलवा रेसिपि को सर्व करने के लिए सबसे पहले हलवा को एक बॉउल में निकाल कर उपर से कुछ ड्राई फ्रूट को पतले शेप मे काट कर छिड़क दें और कांच की खूबसूरत प्याली में निकाल कर सर्व करेंl


सावधनियाँ,


. मूंग दाल का हलवा बनाने के लिए कुछ सावधानियां और आवश्यक कुछ बातों को अवश्य ध्यान में रखना चाहिए नहीं तो आपका हलवा इतना मजेदार नहीं बनेगा जितना की बनना चाहिए इसलिए मूंग दाल का हलवा बनाने से पहले कुछ सावधानियां बरतनी बहुत ही आवश्यक होती है। जो निम्नलिखित है ।


1.मूंग दाल का हलवा बनाने के लिए कुछ लोग छिलके वाली मूंग का इस्तेमाल इस्तेमाल करते हैं जिस की हलवा का कलर और स्वाद दोनों ही प्रभावित हो जाता है।

  1. मूंग दाल से बने की पिसे हुए पेस्ट को धीमी आंच पर उस वक्त तक भुनना चाहिए जब तक दाल के पेस्ट की नमी खत्म होकर दाल पूरी तरह से सुख न जाए तेज आंच पर भुनेंगे तो यह नीचे से जला हुआ और ऊपर से बिल्कुल गीला रह जाए
  2. 3. दाल के पेस्ट को भुनते वक्त चम्मच को लगातार चलाते रहना चाहिए नहीं तो आपका हलवा बनने से पहले ही खराब हो जाएगा।
  3. हलवा बनाने के लिए चीनी ,दूध, खोया पानी इत्यादि दाल के हिसाब से डालना चाहिए नहीं तो इसका स्वाद गड़बड़ हो जाएगा

Leave a Comment